Haunted House ft. Jaaved Jaaferi | true ghost stories in hindi language

true ghost stories in hindi language

true ghost stories in hindi language:- कुछ बातें ऐसी होती है जिनके बारे में सोच कर ही हमको डर लगने लगता है एक ऐसी ही बात मुझे यद् है जो मुझे अंदर से हिला कर रख देती है कुछ सालो पहले ऑफिस काम का टेंशन इतना ज्यादा हो गया था की मुझे रात में नीद नहीं आती थी और डॉक्टर के कहने पर में अपनी फैमली के साथ शिमला चला गया वहाँ हमें एक छोटा सा होटल बुक करवाया था और सभी अपनी यात्रा के कारन बहुत ही ज्यादा थक चुके थे और सभी जल्दी सो गए लेकिन मुझे बिलकुल भी नीद नहीं आ रही थी और जब आधी रात में पानी पिने के लिए उठा तो मेने देखा की मेरी बेटी दरवाजे पर खड़ी हो कर किसी से बात कर रही थी लेकिन दरवाजे के बहार कोई नहीं था और वो अकेले ही कुछ बोल रही थी में ये सब देख कर थोड़ा डर गया और मेने वहाँ की लाइट ऑन कर दी लेकिन लाइट ऑन होते ही वहाँ कोई नहीं था मेने उसके रूम में जा के देखा तो वो बहुत ही आराम से सो रही थी और जब मेरी नजर खिड़की की तरफ गई तो मुझे लगा की उसके बहार कोई लड़की खड़ी है जो मुझे देख रही है फिर मेने सोचा की मुझे ये सब नीद ना आने की वजह से हो रहा है और में अपने रूम में जा के लेट गया लेकिन अगली सुबह मेरी बेटी को बहुत तेज बुखार हो गया और वो अजीब सा बोलने लगी मुझे ऐसा लग रहा था की वो पागल सी हो गई है मेने अपनी जिंदगी में कभी अपनी बेटी को पहले कभी ऐसी हालत में नहीं देखा था में अपनी बेटी को सभाल नहीं पा रहा था तो हमने मेरी बेटी को बेड से बांध दिया नीद का इंजेकशन देके सुला दिया में अपनी बेटी के पास ही बैठा था की फिर से मुझे वही लड़की दिखाई दी जो कल रात भी मुझे दिखाई दी थी वो आज भी मुझे ही देखे जा रही थी मेने जब वो खिड़की खोली तो वहाँ कोई भी नहीं था और जैसे ही में मुड़ा मेरी बेटी हवा में उड़ रही थी और मेरी तरफ देख कर हास रही थी पहली बार मुझे अपनी बेटी को देख कर डर लग रहा था मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था की ये मेरे साथ हो क्या रहा है मेने अपनी बेटी की तरफ देख कर बहुत जोर से चिलाकर बोला की बेटा तुमको क्या हो रहा है मेरी आवाज सुनकर मेरी पत्नी और उस होटल का मैनेजर वहाँ आगया उन सभी को देख कर मेरी बेटी अपना सर जोर जोर से झूमने लगा और अपने बेड पर जोर से गिर गई वो सब देख कर मेरी हालत ख़राब हो रही थी और मेरी बेटी का सर टेढ़ा था और उसका पूरा सरीर ठंडा हो चूका था मेरी बेटी की जान जा चुकी थी ये सब देख कर वो होटल का मैनेजर कही गायब होगया जब हमने पूछ ताछ की तो हमें पता चला की उसको मारे हुए दो साल हो चुके थे और वो होटल एक श्मशान घाट पर बना था उस दिन के बाद से मुझे कभी भी ठीक से नीद नहीं आती और मुझे आज भी ऐसा लगता है की जैसे मुझे कोई देख रहा है दोस्तों आपको हमारी ये स्टोरी अछि लगी तो प्लीज हमें कमेंट करना ना भूले

true ghost stories in hindi language

true ghost stories in hindi language and english

true ghost stories in hindi language:- There are some things that make us feel scared only by thinking about it, I have a similar thing that shook me in. Some years ago, the tension of office work was so much that I do not sleep at night She used to come and went to Shimla with her family at the behest of the doctor, had booked us a small hotel there and all were very tired due to their journey and all went to sleep early but I could not sleep at all And when I woke up in the middle of the night to drink water, I saw that my daughter was standing at the door and talking to someone, but there was no one outside the door and she was speaking something alone. And I turned on the light there, but as soon as the light was on, there was no one, I went to her room and saw that she was sleeping very comfortably and when my eyes went towards the window, I felt that a girl stood outside her. Who is looking at me, then I thought that I was having all this because of no sleep and I went to my room and lay down, but the next morning my daughter got very high fever and she felt strange I started feeling like she was crazy, I had never seen my daughter in such a condition before in my life, I was not able to take care of my daughter, then we tied my daughter to the bed I was seated next to my daughter in Sula Diya, where I again saw the same girl who had seen me last night, she was still looking at me today. When I opened that window, there was no one there and As soon as my daughter was flying in the wind and was looking at me, I was afraid to see my daughter for the first time, I could not understand what was happening to me. Looking at him, he shouted very loudly, son, what is happening to you, my wife and the manager of that hotel came there and after seeing them, my daughter started swinging her head very loudly and fell hard on her bed. Seeing all this, my condition was getting worse and my daughter’s head was crooked and her body was cold and my daughter had lost her life, after seeing all this, she disappeared from the hotel manager when we asked. We came to know that it had been two years since he was killed and that the hotel was built on a crematorium. Since that day I have never had a good sleep and I still feel like someone is watching me Friends, if you like this story of ours, please do not forget to comment on us

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*